RIP Full Form in Hindi

RIP Full Form In Hindi: RIP शब्द से जुडी सारी जानकारी हिंदी में

नमस्कार दोस्तों हमारी वेबसाइट पर आपका एक दफा फिर से स्वागत है आज के इस लेख में RIP Full Form In Hindi के बारे जानने वाले है, साथ में हम RIP से संबंधित सभी चीजे जानेंगे.

दोस्तो जब भी किसी की मौत हो जाती है, तो आपने लोगों को RIP शब्द का इस्तेमाल करते देखा होगा और शायद आपने भी इसका इस्तेमाल किया हो. हम जानते हैं कि किसी के मौत के बाद RIP कहा जाता है.

दोस्तो देखा जाए तो असल में RIP एक शॉर्टफ़ॉर्म है, लेकिन आजकल लोग इसे शब्द के तौर पर इस्तेमाल करने लगे हैं, हम में से बहुत से लोग तो ऐसे भी हैं, जिन्हे इस शब्द का सही अर्थ भी नही पता है.

सही अर्थ पता न होते हुए भी लोग अपना दुख व्यक्त करने के लिए इस शब्द का इस्तेमाल करते हैं. अगर आप भी इसका सही अर्थ नही जानते हैं तो आज हम आपको RIP शब्द का सही मतलब बताने जा रहे हैं.

तो सबसे पहले हम यह जान लेते है की RIP Full Form in hindi क्या है, RIP का पूरा नाम क्या है के बारे में.

RIP Full Form In Hindi

दोस्तो RIP का Full Form “Rest In Peace” है,  हिंदी में RIP का फुल फॉर्म “आत्मा को शांति मिले” होता है, आजकल इस शब्द को ज्यादातर लोग Social Media पर उपयोग करते हैइसका मतलब होता है भगवान मरने वाले की आत्मा को शांति प्रदान करे.

RIP शब्द का उपयोग ज्यादातर ईसाई धर्म के लोग करते है क्योंकि वे शवों को जलाते नहीं बल्कि उन्हें दफनाते हैं,  ईसाई धर्म में मनुष्य के मरने के बाद इन्हें दफना दिया जाता है और रिप इनके कब्र पर लिखा एक वाक्यांश है जो उन्हें मरने पर आत्मा को शांति प्रदान करने का कामना करता है.

ऐसे मे RIP शब्द बहुत ही Trending Word बन गया है, आपने देखा होगा जब कोई ऐसा व्यक्ति संसार छोड़ देता है जो लोगों के बीच मे बहुत ही लोकप्रिय रहा है तो ऐसे मे लोग मरने वाले के “आत्मा की शांति” के लिए अपने सभी Social Media Accounts पर Rip शब्द का प्रयोग करते है.

उदाहरण के तौर पर आप कुछ example नीचे देख सकते है-

  • RIP Sumitra Sen
  • RIP Sushant Singh Rajput
  • RIP Atal Bihari Vajpayee
  • RIP Lata Mangeshkar
  • RIP General Bipin Rawat

यह शब्द Letin भाषा के Requiescat In Pace शब्द से आया है, RIP का उपयोग अलग-अलग तरीकों से किया जाता है, जैसे कि Rest in Peace (ज्यादातर लोग इस शब्द का उपयोग करते है) और Return if Possible (यदि संभव हो तो वापस लौटें).

यह दोनों ही शब्द अपनी भावना को व्यक्त करने के लिए होते है, RIP (Rest in Peace) शब्द लिखने या बोलने का मतलब, किसी मृतइंसान को श्रद्धांजलि देना होता है। जब किसी कारण वश किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके प्रति संवेदना व्यक्त करने के लिए RIP का उपयोग किया जाता है.

तो दोस्तो अब आप समझ ही गए होंगे की RIP Full Form In Hindi क्या है, अब हम जानेंगे RIP Meaning In Hindi के बारे में.

RIP Meaning In Hindi ( RIP शब्द का अर्थ क्या है )

जब किसी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो हम उसकी आत्मा की शांति के लिए भगवान से दुआ करते हैं और यही बात यदि अंग्रेजी में लिखकर व्यक्त करते है तो Rest in Peace या उसको शॉर्टकट मे RIP  का प्रयोग करते है.

दोस्तो आपको बता दें कि दुनिया मे कई सारे जाति या धर्म के लोग रहते है लेकिन यह Rip शब्द ईसाई धर्म मे जब किसी व्यक्ति की मृत्यु होती है तो उनको जमीन मे दफनाया जाता है और उनकी कब्र के ऊपर Rest in Peaceशब्द का प्रयोग किया जाता है.

ईसाई धर्म के लोगों का मानना होता है कि God किसी न किसी दिन उस मृत इंसान को जिंदा करने जरूर आएगा और उसके अच्छे या बुरे कर्मो का फल देगा। इसी उम्मीद मे उस दिन के इंतजार में कहा जाता है Rest in Peace यानि शांति से आराम करो, ईसाई धर्म में मृत इंसान को  दफनाकर उसके कब्र के ऊपर Rest in Peace लिख दिया जाता है.

अभी के समय मे सभी धर्मो के लोग इस शब्द का प्रयोग करने लगे है और social Media मे भी अपनी भावनाओं को व्यक्त करते है। दोस्तो आप कहीं पर भी इस शब्द को लिखने या बोलने से पहले सोच ले क्योकि यह एक भावुक शब्द है इसका प्रयोग आप सोच समझ कर करें.

तो दोस्तो अब आपको समझ में आ गया होगा की RIP Meaning In Hindi, RIP शब्द का अर्थ क्या है अब हम जानेंगे RIP का इस्तेमाल क्यों करते है के बारे में जानेगे.

RIP का इस्तेमाल क्यों करते है?

दोस्तो किसी व्यक्ति के मर जाने के बाद उसकी आत्मा को शांति मिले इसलिए रिप का इस्तेमाल किया जाता है. लोग इस शब्द का इस्तेमाल मरे हुए व्यक्ति के प्रति संवेदना प्रकट करने के लिए करते है, मरे हुए व्यक्ति की आत्मा को श्रद्धांजलि देने के लिए हर धर्म में कुछ ना कुछ किया जाता है.

उसी तरह सोशल मीडिया पर रिप को श्रद्धांजलि के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है, सोशल मीडिया जैसे Facebook, Twitter, Instagram सभी प्लेटफार्म पर मर जाने वाले व्यक्ति की फोटो के साथ R.I.P लिख कर शेयर किया जाता है.

कोरोना के समय में तो आपने ये चीज़ देख ही ली होगी,  रोजाना ऐसी बहुत सी पोस्ट आपको देखने के लिए मिली होंगी, तो दोस्तो अब आप समझ ही गए होंगे की RIP का इस्तेमाल क्यों करते है के बारे में अब हम जानेंगे RIP शब्द कहा से लिया गया है के बारे में.

RIP शब्द कहा से लिया गया है?

दोस्तो कई लोगों को यह गलतफहमी होती है कि RIP एक अंग्रेजी का शब्द है, लेकिन ऐसा है नहीं। हम आपको इस बारे में सही-सही जानकारी देंगे। दोस्तों, दरअसल RIP एक latin शब्द है, इसे Requiescat in Pace से लिया गया है.

अब आपको बताते हैं कि इस शब्द का इस्तेमाल कहां होता है, दोस्तों, यह शब्द मृत व्यक्ति के लिए इस्तेमाल होता है। जैसा कि आप जानते हैं कि मुस्लिम और ईसाई धर्म में मृत्यु के पश्चात व्यक्ति को दफनाए जाने की परंपरा है। आपको बता दें कि ईसाई धर्म में मनुष्य के मरने के बाद जब उसे दफना दिया जाता है.

अमूमन जिस ताबूत में शव को रखा जाता है उसके ऊपर और कई स्थानों पर कब्र के ऊपर Rest In Peace लिखा होता है, ऐसा मृत व्यक्ति के प्रति सहानुभूति और आदर प्रकट करने के लिए भी प्रयोग में लाया जाता है.

मुस्लिम और ईसाई धर्म की मान्यताओं के अनुसार यह भी बताया गया है कि जब कभी ‘जजमेंट डे’ या ‘कयामत का दिन’ आएगा, उस दिन कब्र में पड़े ये सभी शव दोबारा जीवित हो जाएंगे.

तब तक उस दिन के इंतजार में ‘शांति से आराम करो, इन धर्मों में यह माना जाता है कि इंसान को कब्र में तब तक शांति से रहने की जरूरत पड़ती है, जबकि तक कि ईश्वर उनके कर्मों का फैसला न कर दें, इन धर्मों के अनुयायी आज भी इन मान्यताओं पर विश्वास रखते हैं.

तो दोस्तों अब आप समझ गए होंगे कि RIP शब्द कहा से लिया गया है, अब हम जानेंगे RIP शब्द का इस्तेमाल कहा किया जाता है के बारे में.

RIP शब्द का इस्तेमाल कहा किया जाता है?

दोस्तो RIP शब्द का इस्तेमाल जब किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसे श्रद्धांजलि देने के लिए किया जाता है, RIP का मतलब होता है आत्मा को शांति मिले और इंग्लिश में इसे Rest in peace होता है.

तो दोस्तो मुख्य रूप से RIP का इस्तेमाल श्रद्धांजलि देने के लिए ही किया जाता है तो दोस्तो अब आप समझ ही गए होंगे कि RIP शब्द का इस्तेमाल कहा किया जाता है, और साथ में RIP Full Form In Hindi आदि के बारे में भी जान ही चुके है.

हमारे अन्य आर्टिकल्स भी पड़ें

FAQ Related To RIP in Hindi

Rest in peace का उपयोग कब किया जाता है?

“Rest in peace” (RIP) वाक्य एक इंग्लिश शब्द है जो ख़ास तौर पर किसी की मृत्यु के समय उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए प्रयोग किया जाता है। जब किसी का निधन होता है और हम उन्हें उनके आत्मा की शांति की कामना करते हैं, तो हम “Rest in peace” शब्द का इस्तेमाल करते हैं। यह भावुक शब्द है जो मृतक के परिवार और मित्रों के प्रति संवेदना व्यक्त करने के लिए प्रयोग किया जाता है.

कोई मर जाता है तो क्या लिखते हैं?

जब कोई मर जाता है, तो हम उन्हें उनकी आत्मा की शांति की कामना करते हैं और उनके परिवार और मित्रों के प्रति संवेदना व्यक्त करने के लिए निम्नलिखित वाक्य का इस्तेमाल कर सकते हैं:

1. RIP – Rest in Peace
2. आत्मा को शांति मिले
3. उनकी आत्मा को शांति मिले, हम सभी उनके साथ हैं
4. उनकी आत्मा को आनंद मिले और वे सदैव हमारे दिलों में रहेंगे
5. हम उनके चले जाने पर व्यथित हैं, ईश्वर उनकी आत्मा को शांति


मरने के बाद RIP क्यों लिखा जाता है?

जब किसी व्यक्ति का निधन हो जाता है, तो इसके समय उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए इस शब्द का प्रयोग किया जाता है। यह एक भावुक वाक्य है जो व्यक्ति के आत्मा की शांति की कामना को प्रकट करता है और उनके परिवार और मित्रों के लिए संवेदना व्यक्त करने का एक तरीका है। यह उन अल्पकालिक वाक्यों में से एक है जो हमारे अन्तिम सलामी को दर्शाता है जब हम किसी को खो देते हैं और उन्हें उनके अंतिम यात्रा पर विदा करते हैं.

RIP की उत्पत्ति कहां से हुई?

RIP” शब्द की उत्पत्ति इंग्लिश भाषा से हुई है। यह “Rest in Peace” का संक्षेप है जो ख़ास तौर पर किसी की मृत्यु के समय उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए प्रयोग किया जाता है। इस शब्द को आम तौर पर अंतिम समय पर किसी की आत्मा की शांति की कामना को प्रकट करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

निस्कर्ष – RIP Full Form in Hindi

आशा करते दोस्तों आपको हमारे द्वारा बताई गई या जानकारी पसंद आई होगी हमने आपको हमारे इस लेख के जरिए RIP Full Form In Hindi के बारे में बताया है और साथ में बताया है की RIP का इस्तेमाल कहा किया है, RIP Meaning In Hindi, RIP का इस्तेमाल क्यों किया जाता है आदि के बारे में.

दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा बताई गई या जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों तक जरूर शेयर करें और आपके मन में RIP शब्द से संबंधित कोई भी सवाल यह सुझाव है तो आप अपने कमेंट बॉक्स के माध्यम से जरूर बताएं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top